Gujarat Seventh Pay Vikalp Information


जिन कर्मचारी को जान्युआरि से जुलाई के बिच में बढती या उच्चतर पगार धोरण का लाभ मिलता हो उन कर्मचारी को विकल्प का ओपशन केसे स्वीकारे इसकी समज यहाँ पर दी गई हे।
7'th Pay में विकल्प के बारे में समजूति।कोई कर्मचारी को 1.1.2016 के बाद ईवेन्ट जेसे की उच्चत्तर पगार धोरण,बढ़ती नहीं है उसको सातवा पगार 1.1.2016 को स्वीकार लेना है।लेकिन जिस कर्मचारी को 1.1.2016 के बाद उच्चत्तर पगार धोरण,बढ़ती आती है उसको सातवा पगार पंच स्वीकारने का विकल्प सोच समझके देना जिससे भविष्य में नुकशान ना हो।
उदाहरण :
विकल्प :1 अगर कोई कर्मचारी ने 1.1.2016 को सातवा पगार पंच स्वीकारा है और वो कर्मचारी को 21.1.2016 को उच्चत्तर पगार धोरण स्वीकारता है तो उसके पगार की गिनती निचे मुजब होगी।
1.1.2016 सातवा पगार पंच = 71100 फिक्स होगी, 
21.1.2016 को उ. प. धोरण= 74000 फिक्स होगी,
01.7.2016 का इजाफा  नहीं मिलेगा ।
01.07.2017 को इजाफा  = 76200 पगार फिक्स होगी।
विकल्प :2 अगर कोई कर्मचारी ने 1.7.2016 को सातवा पगार पंच स्वीकारा है और वो कर्मचारी को 1.7.2016 को ही  उच्चत्तर पगार धोरण स्वीकारता है तो उसके पगार की गिनती निचे मुजब होगी।
1.7.2016 सातवा पगार पंच = 74000 फिक्स होगी, 
1.7.2016 को उ. प. धोरण=   76200 फिक्स होगी,
01.7.2016 का इजाफा    =   78500 फिक्स होगी,
01.07.2017 को इजाफा  =  80900  फिक्स होगी।
इस तरह जिस कर्मचारी को 1.1.2016 के बाद उच्चत्तर पगार धोरण,बढ़ती आती है उसको सातवा पगार पंच 1.7.2016 स्वीकार ना  लाभदायक होगा। लेकिन 6 मास का सातवा पगार पंच एरियर्स वापस भरना पड़ेगा। लेकिन विकल्प : 2 अनुसार आपके बेजिक में फायदा होगा।
मेने अपनी तरह से विकल्प समजाने का प्रयास किया है तो आप सोच समझके विकल्प दे ताकी भविष्य में नुक्सान न हो।

Comments

  1. my 1-1-16 basic 10190+2400 & 01-06-16 thi uchchtar pagar dhoran malel chhe to mate kayo 7th pay vikalp aapvo joiye ?

    ReplyDelete

Post a Comment

Thank You very much

Popular posts from this blog

TET-2 Online Merit Calculator

जुलाई इन्क्रीमेंट 2018 की ऑनलाइन ओटोमेटिक गिनती केल्क्युलेटर