Cabinet Approves 7th Pay


सातवे वेतन आयोग की सिफारिशो को केबिनेट की मंजूरी मिल गई है. अभी तक यह साफ नहीं हो सका है की कर्मचारियों की सैलरी कितनी बढ़ेगी. हालाकि,बताया जा रहा है की 15 से 20 फीसदी की बढोत्तरी हो सकती है. कर्मचारियों को 1 जनवरी 2016 से बढी हुई सैलरी का एरियर्स भी मिलेगा.

इसका सीधा असर करीब एक करोड़ केंद्र सरकार के कर्मचारियों और रिटायर हो चुके पुर्वकर्मियों के पेन्शन पर पड़ेगा.जस्टिस माथुर की अध्यक्षता में गठित सातवे वेतन आयोग ने पिछ्ले साल नवेंम्बर में वित्त मंत्री अरुण जेटली को रिपोर्ट सौपी थी.
70 साल में वेतन आयोग ने वेतन में सबसे कम बढ़ोतरी की सिफारिस की है वेतन आयोग ने एस बार 14.27 फीसदी मूल वेतन में बढ़ोतरी की सिफारिस की है जबकि छठे वेतन आयोग में 20 फीसदी मूल वेतन की सिफारिस की गई थी. 

कितनी बढ़ेगी आपकी तनख्वाह?
फ़िलहाल वेतन आयोग की सिफारिशो की हो मान लिया जाए तो अभी केंद्र सरकार में सुरुआती मूल वेतन 7000 रुपये है. इसमे 125 फीसदी महंगाई भत्ता यानि दी जोड़ डे तो ये रकम हो जाती हो 15750 रूपये. आयोग की सिफ़ारिशो के बाद ये सैलरी हो जाएगी 18000 रूपये यानि करीब सवा चौदह फीसदी की बढ़ोतरी.
इसी केंद्र सरकार के सबसे बडे अधिकारी यानि कैबिनेट सचिव की तनख्वाह है 90 हजार रुपये और 125 फीसदी महंगाई भत्ता जोड़कर होती है 2 लाख 2 हजार 500 रूपये. आयोग की सिफ़ारिशो के बाद सैलरी हो जाएगी ढाई लाख रुपये यानि 23.4 फीसदी की बढ़ोतरी. कुल मिलकर कर्मचारीयो का वेतन 18 हजार से लेकर ढाई लाख तक हो जाएगा जब की मांग साढ़े 23 हजार से सवा 3 लाख के वेतन की है

रिटायर हो चुके लोगो के पेंसन में भी करीब 20 फीसदी का इजफा होगा यानि अगर पेंसन 10 हजार रूपये है और 125 फीसदी दी  के बाद पेंसन साढ़े बारह हजार रूपये बनती है तो 20 फीसदी बढ़कर अगस्त से पेंसन 15 हजार रूपये हो जाएगी

Comments

Popular posts from this blog

TET-2 Online Merit Calculator

जुलाई इन्क्रीमेंट 2018 की ऑनलाइन ओटोमेटिक गिनती केल्क्युलेटर